Ads

Wednesday, 22 March 2017

इन गर्मियो में अपने बच्चे की देखभाल कैसे करे - Newborn Care Tips in Hindi

माता पिता अक्सर ये सोचते है की गर्मियों में अपने बच्चे की देखभाल कैसे की जाये। तो अब गर्मी के मौसम की सुरुआत हो चुकी है आइये हम आप को बताते है की इन गर्मियो में अपने बच्चे की देखभाल कैसे करे। 

नोट :  बच्चो के लिए गर्मी को बर्दाश करना थोड़ा सा मुश्किल होता है फिर भी आप का बच्चा आसानी से गर्मी बरदास केर ले या बच्चे को ठंडा करने के लिए बहुत कुछ किया जा सकता है। गर्मियों से बच्चे को होने वाली परेशानी को दूर करने के लिए हमारा यह ब्लॉग जरूर पढ़ें।


बच्चे को कैसे कपड़े पहनना चाहिए

बच्चो के लिए गर्मियों में सूती कपडे बहुत अच्छे होते हैं। इसके सूती कपड़ों से गर्मी बाहर निकलती रहती है और बाकी के कपडे गर्मी को अंदर जकड कर रखते हैं जिससे आप के बच्चे को काफी परेशानी होते है और इसके कारण बच्चों को लाल लाल दाने हो जाते है जिसे आप घमौरियां बोलते है। सुबह के समय अपनी बच्चो को पूरी बांह के कपडे पहनाएं विशेष रूप जब आप अपने बच्चे को हवा में ले जा रहे हों। बचे को कभी रबर बंद वाली कैप या हैट न पहनाये क्यों की इस से हवा का प्रवाह बाधित होता है उसे गर्मियों में पहनाई जाने वाली समर हित पहनाएं जिसकी रिम चौड़ी हो

बच्चे को कैसे कपड़े पहनना चाहिए


बच्चे का डायपर कब और कितनी देर में बदले

गर्मियों के दौरान बच्चों के डायपर बदलने का अधिक ध्यान रखना चाहिए क्योकि बच्चे के पेशाब और पसीने के कारन बहुत साडी बीमारिया उत्पन्न हो सकती है।  बच्चों की डायपर हर तीन घंटे बाद बदलना चाहिए।  डायपर बदलते समय  इस बात का भी ध्यान रखे की बच्चे ने पोट्टी तो नही की है यदि की है तो पहले उस भाग को अच्छे से साफ़ करे उसके बाद उसे सुख के तब दूसरा डायपर पहनाये। 

बच्चे का डायपर कब और कितनी देर में बदले


बच्चे हाइड्रेटेड कैसे रखे?

गर्मियों के दौरान बच्चों में डिहाईड्रेशन की समस्या होना बहुत आम बात है। यदि आप स्तनपान करवा रही हैं और उसकी मांग के अनुसार उसे दूध पिला रही हैं तो आप अपने बच्चे को उचित तरीके से हाइड्रेट कर रही हैं। परन्तु यदि आपने बच्चे का दूध छुड़ाया हुआ हिया तो क्या करे। 

जैसा की आप जानते है की गर्मियों के मौसम में बच्चों को काम भूख लगती है और वह काम खाना खता है और कम दूध पिता है ऐसे में अपने बच्चे को अन्य तरल पदार्थ जैसे मिल्कशेक, फलों का रस, छांछ आदि पिलाये। गर्मियों के दौरान बच्चों को अधिक गरम पदार्थ न खिलाये कुछ भी खिलने से पहले उसे ठंडा कर ले और ये भी ध्यान रहे की पदार्थ ज्यादा ठंडा भी न हो। 

बच्चे हाइड्रेटेड कैसे रखे?


बच्चे को तेल और पाउडर न लगाए 

गर्मियों के मौसम में बच्चे की त्वचा पर तेल या पाउडर नही लगाना चाहिए। यदि आप ने लगाया है तो उसे ठीक से साफ़ करे क्योकि यह जोड़ो वाले स्थान पे लगा रह जाता है और यह जम जाता है जिसके कारण हीट रैशेस, खुजली, फोड़े आदि समस्याएं हो सकती हैं। विशेषकर नेप्पी वाले भाग में, गर्दन के पीछे, पीठ और कन्धों पर तेल रह जाता है। ध्यान रहे कि इन भागों को ठीक से साफ़ करे।

बच्चे को तेल और पाउडर न लगाए



अपने बच्चे को नियमित तौर पर नहलाएं

गर्मियों के मौसम में अपने बच्चे को अपने बच्चे को नियमित तौर पर नहलाएं लेकिन ठण्ड में ऐसा नही करना है गर्मियों में बच्चों को नहलाने के बाद उसकी क्रीम से मालिश केर दे जिस से वह ठंडा महसूस करेगा और सो जाये बच्चे को नहलाते समय ध्यान रहे की जो साबुन आप इस्तेमाल केर रहे है वह बहुत मुलायम होना चाहिए और जिस से आप बच्चे को पहोचेंगे वो भी मुलायम हो।

Tips for Safe Baby Bath Time


बच्चे को कब बाहर ले जाये

गर्मियों के दौरान बच्चे को धूप से बचाने के लिए सुबह 9 से शाम 6 बजे तक बच्चे को बाहर न ले जाएँ। लेकिन गर्मियों में बच्चे को बाहर ले जाना भी बहुत जरुरी होता है और गर्मियों के दौरान खेलना बहुत महत्वपूर्ण होता है क्योकि गर्मियों में बच्चों की पाचक छमता धीमी हो जाती है और भूख कम लगती है। खेलने कूदने से आप के बच्चे की पाचक छमता तेज़ हो जाती है और उसे भूख भी अच्छी लगती है। यदि आपके बच्चे की उम्र दो वर्ष से अधिक है तो गर्मियों में उसे वॉटर स्पोर्ट्स के लिए प्रोत्साहित करें।

safe baby to sunlight


बच्चे के कमरे का तापमान कितना होना चाहिए 

गर्मियों के दौरान ऐसी आम बात होती है लेकिन बच्चे के कमरे का तापमान 24 डिग्री पर स्थिर रखें। ध्यान रहे बार बार तापमान बढ़ाने घटाने से बच्चे को हानि पहुचती है और बच्चे को सर्दी खांसी की समस्या हो जाती है और एक बात नहलाने की बाद बच्चे को सीधे एसी के सामने न बैठाले।

बच्चे के कमरे का तापमान कितना होना चाहिए


स्वच्छता और हवा का प्रवाह बनाए रखें

अगर आप के घर में बच्चे है तो घर साफ़ सफाई बहुत जरुरी होती है क्यों की बच्चे तो नटखट होते है और पुरे घर में खेलते है और उनको ये नही पता होता है की क्या गन्दा है क्या साफ़ तो इसका ध्यान आप को रखना है और अपने घर को अच्छे से साफ़ करना है बच्चों की कपड़ों को नियमित तैर पे बदले और अपने घर के अंदर तो सफाई करने के साथ साथ घर के आस पास भी नजर रखनी चाहिए की कहीं कोई गंदगी तो नही है आप के घर में हवा का प्रवाह होना बहुत जरुरी है तो घर की खिड़कियाँ खुली रखें और हवा आने दें

स्वच्छता और हवा का प्रवाह बनाए रखें


Post a Comment